राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना | ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया | लाभ पात्रता

आप सभी का जीवन हमेशा हर्षोल्लास के रंगों से भरा रहे। 🎉 रंग पर्व होली की हार्दिक शुभकामनाएं 🎉

Mukhymantri Krashak Sathi Yojana 2021 : राजस्थान की जनसंख्या लगभग 6.89 करोड़ हो चुकी है। लेकिन ये एक खुशहाल प्रदेश है क्योंकि यहां का क्षेत्रफल बहुत अधिक है जहां फसल उगाई जा सकती है और प्रदेश में खाद्य पदार्थों की पूर्ति की जा सकती है।इसलिए प्रदेश में खुशहलता ऐसे ही बनी रहे है और किसानों को किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़े।

इसलिए राजस्थान सरकार द्वारा बहुत सी योजनाओं का संचालन किया जाता है तथा इसी क्रम को और भी मजबूत बनाते हुए।राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत बजट 2021 – 22 के अंतर्गत मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2021 का प्रस्ताव गया था और अब इसे पूरे प्रदेश में लागू भी कर दिया गया है।इस योजना के अंतर्गत किसानों को कृषि गतिविधियों के दौरान अगर कोई हादसा होता है।

तो उन्हें आर्थिक सहायता मुहैया करायी जाएगी।जिससे प्रदेश के निश्चिंत होकर कृषि करने में सफल होंगे। जिससे जुड़े सभी महत्वपूर्ण विषयों जैसे – राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2021 क्या है, आवश्यक पात्रता, दस्तावेज आदि के बारे में नीचे विस्तार से चर्चा की गयी है। इसलिए यदि आप भी राजस्थान प्रदेश में निवास करते है और कृषि से संबंध रखते है तो ये योजना आपके लिए भी कहीं – कहीं उपयोगी साबित हो सकती है इसलिए लेख में अंत तक हमारे साथ बने रहे। तो चलिये शुरू करते है –

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना  क्या है? | What Is Mukhymantri Krashak Sathi Yojana

Mukhymantri Krashak Sathi Yojana 2021

राजस्थान सरकार अपने प्रदेश के किसानों की सुविधा के लिए पहले से ही बहुत सक्रिय रही है और समय – समय पर उनकी सुविधा के लिए बहुत सी कल्याणकारी योजनाओं का भी शुभारम्भ करती रहती है।

लेकिन ऐसी कोई सी योजना नहीं थी जिससे अगर कृषि गतिविधियों को करने के दौरान अगर कोई दुर्घटना घटित हो जाती है तथा किसान की अंग की हानि हो जाती है या फिर मृत्यु हो जाती है तो उसे या उसके परिवार को किसी प्रकार की आर्थिक सहायता मिल सकें।

लेकिन कृषि गतिविधियों के दौरान दुर्घटना घटित होना एक सामान्य ही बात है। जिस कारण किसान के परिवार को अचानक से बहुत बड़ी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ जाता है जिससे उन्हें अपनी जीवन याचिका को चलाने में बहुत सी समस्यों का सामना करना पड़ता था। लेकिन आगे से ऐसा न हो इसलिए सरकार द्वारा Mukhymantri Krashak Sathi Yojana 2021 की शुरुआत है जिसके तहत कृषि कार्य के दौरान दुर्घटना घटित होने पर 5,000 रुपये 2,00000 रुपये तक की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा मुहैया करायी जाएगी। जिसके लिए किसान या किसान के परिवार को दुर्घटना घटित होने के 6 महीने के अंदर – अंदर आवेदन करना होगा।

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना बजट | Mukhymantri Krashak Sathi Yojana Budget

हम सभी जानते है कि 24 फरवरी 2021 को पेश किये गए बजट के दौरान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का प्रस्ताव रखा गया था तथा अब वह प्रस्ताव पास भी किया जा चुका है और प्रदेश में इस योजना को चलाया भी जा रहा है।

लेकिन क्या आप जानते है कि इस योजना के लिए सरकार द्वारा कितने रुपये के बजट को आवंटित किया गया है अगर नहीं! तो आपको बता दें कि राजस्थान सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2021 – 22 के दौरान इसके लिए 2000 करोड़ का बजट आवंटित किया गया है।

राजस्थान कृषक साथी योजना 2021 के लाभार्थी

आपको अब तक अवगत हो चुका ही होगा। कि इस योजना के लाभ केवल प्रदेश के किसानों को प्रदान किया जाएगा।

लेकिन अगर कृषि गतिविधयों के दौरान घटित दुर्घटना में अगर किसान की मृत्यु हो जाती है तो इस योजना से प्राप्त होने वाले लाभ किस – किस को प्रदान की जा सकता है। जिसका क्रम कुछ निम्न प्रकार है –

  1. पति/पत्नी
  2. बच्चे
  3. माता/पिता
  4. पौत्र या पौत्री
  5. अविवाहित या आश्रित बहन
  6. वारिस

Note – इस योजना से प्राप्त होने वाले लाभ पर प्रथम हक पति/पत्नी का बनता है अगर वह उपस्थित नहीं है तो आगे के क्रम लाभार्थी घोषित किया जाएगा। जो लाभार्थी चुना जाएगा। उसकी उम्र 5 से अधिक तथा 70 वर्ष से कम होनी चाहिए। तभी वह मान्य होगा।

राजस्थान कृषक साथी योजना से सम्बंधित महत्वपूर्ण बिंदु

राजस्थान कृषक साथी योजना के अंतर्गत आवेदन करने से पहले आपको इससे संबंधित कुछ महत्वपुर्ण बिंदुओं के बारे में पता होना आवश्यक है जो कि निम्न है –

  • इस योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा 24 फरवरी 2021 को की गयी थी।
  • राजस्थान कृषक साथी योजना के तहत ₹5000 से लेकर ₹200000 तक की आर्थिक सहायता कृषि गतिविधियों के दौरान घटित हुई दुर्घटना से ग्रासित किसान को प्रदान के जाएगी।
  • यदि किसान की दुर्घटना के दौरान मृत्यु हो जाती है तो उसके उत्तराधिकारी को योजना से प्राप्त होने वाला लाभ मोह लेकर आ जाएगा और अगर दुर्घटना के दौरान आवेदक विकलांग हो जाता है तो वह स्वयं इस योजना का लाभ प्राप्त कर पाएगा।
  • इस योजना के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 2000 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है।
  • दुर्घटना के घटित होने के 6 महीने के अंदर अंदर किसान को योजना के तहत आवेदन करना होगा तभी उसका आवेदन मान्य माना जाएगा।
  • योजना से प्राप्त होने वाली आर्थिक सहायता का उपयोग किसान अपने इलाज करवाने में भी कर सकता है।
  • इस योजना के शुरू होने से प्रदेश किसानों के जीवन स्तर में सुधार आयेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी की आयु कम से कम 5 वर्ष तथा अधिकतम 70 वर्ष होनी चाहिए तभी वह मान्य माना जाएगा।

राजस्थान कृषक साथी योजना जरूरी पात्रता | Eligibility For Mukhymantri Krashak Sathi Yojana

इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपके पास कुछ पात्रताओं का होना आवश्यक है जो कि निम्न प्रकार है –

  • राजस्थान कृषक साथी योजना राजस्थान में स्थाई रूप से निवास करने वाले किसानों की सहायता के लिए शुरू की गई है। इसलिए आवेदक स्थाई रूप से राजस्थान का निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ प्रदेश के केवल पंजीकृत किसानों को ही प्रदान किया जाएगा।
  • यदि किसान आत्महत्या करता है या प्राकृतिक मौत होती है तो वह इस योजना के तहत आवेदन नहीं कर सकता है।
  • आवेदक आवेदक को दुर्घटना घटित होने के 6 महीने के अंदर अंदर संबंधित जिला कृषि अधिकारी के पास जाकर इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए मृत्यु या स्थाई विकलांगता दुर्घटना के कारण होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना आवश्यक कागजात | Chief Minister Krishak Sathi Scheme essential documents

राजस्थान कृषक साथी योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपके पास प्रूफ के तौर पर कुछ दस्तावेजों का होना आवश्यक है जो कि निम्न है –

  • आधार कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मृत्यु प्रमाण पत्र
  • निर्धारित प्रपत्र में आवेदन
  • बीमा निर्देशक द्वारा पूछे गए अन्य प्रमाण
  • हेयर डिटेल रिपोर्ट
  • क्षतिपूर्ति बॉन्ड
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट
  • एफ आई आर एवं सपोर्ट पंचनामा पुलिस पूछताछ रिपोर्ट
  • निर्धारित प्रपत्र
  • स्थायी विकलांग के मामले के मेडिकल बोर्ड/सिविल सर्जन का विकलांग प्रमाण पत्र और विकलांगता की तस्वीर
  • सब डिविजनल मजिस्ट्रेट की केस स्वीकृति रिपोर्ट

राजस्थान कृषक साथी योजना 2021 के लिए आवेदन कैसे करें? | How To Apply Mukhymantri Krashak Sathi Yojana

यदि प्रदेश का कोई भी किसान परिवार या किसान इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इच्छुक है तो बहुत आसानी से आवेदन कर सकता है। जिसके लिए वह नीचे बताये गये तरीके को फॉलो कर सकता है जो कि निम्न है –

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले जिले के कृषि विभाग में जाना होगा।
  • जिसके बाद वहां उपस्थित अधिकारी से राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना आवेदन पत्र को प्राप्त करना होगा।
  • और फिर आवेदन पत्र में पूछी गयी सभी मूल जानकारीयों जैसे – नाम, एड्रेस, मोबाइल नंबर आदि को भरना होगा।
  • सभी जानकारीयों को भरने के बाद एक बार दुबारा से उसकी जांच अवश्य कर लें? जिससे आपको बाद में किसी प्रकार की समस्या ना हो।
  • और फिर मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेजों की फ़ोटो कॉपी को पत्र के साथ अटैच कर देना है
  • जिसके बाद इस पत्र को विभाग में जमा कर देना है।
  • फिर विभाग द्वारा आपके सभी विवरण और दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा।
  • यदि सब की ठीक साबित होता है तो जल्द से जल्द लाभ राशि आवेदक के खाते में स्थांतरित कर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना FAQ

क्या इस योजना का लाभ किसी भी प्रदेश के किसान प्राप्त कर सकते है?

जी नहीं! इस योजना को राजस्थान सरकार द्वारा शुरू किया गया है तथा इसका लाभ केवल राजस्थान प्रदेश के पंजीकृत किसान ही प्राप्त कर सकते है।

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना 2021 के अंतर्गत आवेदन करने के लिए हमे किसी शुल्क का भुगतान करना होगा?

जी नहीं! इसके तहत आवेदन करने के लिये आपको किसी भी शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा। क्योंकि इसकी आवेदन प्रक्रिया पूर्णतया निःशुल्क है।

इस योजना के तहत कितने रुपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी?

इसके अंतर्गत 5,000 रुपये से लेकर 2 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता मुहैया करायी जाएगी।

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के लिये 2021 – 22 बजट सत्र में कितने रुपये का बजट निर्धारित किया गया है?

इसके लिए बजट सत्र 2021 – 22 में 2000 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है।

आखरी शब्द –

राजस्थान कृषक साथी योजना किसानों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए चलायी जा रही कल्याणकारी योजना है। जिसके बारे में हुमने ऊपर लेख में विस्तार से बताया था। उम्मीद करते है कि ये लेख आपको पसंद आया होगा। अगर हां! तो इसे अपने अन्य किसान भाइयों के साथ शेयर करें? जिससे वे भी इस योजना से अवगत हो सकें।

Spread the love

Leave a Comment